September 25, 2022

अररिया: तालाब किनारे महिला का शव बरामद, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

अररिया

अररिया में पलासी थाना क्षेत्र के कलियागंज महादलित मलिक टोला स्थित तालाब के किनारे शुक्रवार की सुबह एक  45 वर्षीय महिला का शव मिलने से सनसनी फैल गई। शव की पहचान गांव के ही रामफल की पत्नी मीना देवी के रूप में की गई। आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने शव लेकर पलासी थाना पहुंच गये और हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। थानेदार शिवपूजन कुमार ने आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन देकर मामला को शांत कराते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल अररिया भेज दिया।

मृतका के पति रामफल मलिक बेटे के ससुराल के नौ लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है। इसमें पूर्णियां जिले के रौटा थाना क्षेत्र के रौटा टोला भेभड़ा निवासी छोटू मलिक, जोगी मलिक, अशोक मलिक, सागर मलिक, मीना देवी, बादल मलिक, गीता देवी, शीला देवी व चांदनी देवी शामिल हैं।

रामफल मलिक ने बताया कि बेटे रामा मलिक की शादी रौटा गांव के रूपा देवी के साथ की थी। इस दौरान उसे एक बेटा भी हुआ। बहू रूपा देवी उसके बेटे से किसी बात को लेकर बराबर झगड़ा करके अपनी मायके चली जाती थी। इसी दौरान बहू के मायके वाले उनके यहां आकर कहासुनी भी किया करते थे। इसी दौरान कुछ दिन पहले उनकी बहू उनके बेटे से झगड़े कर बच्ची को छोड़कर मायके चली गई।

इसकी सूचना बेटे के ससुराल वालों को भी दिया। बेटे के ससुराल वालों उन लोगों पर बेटी को गायब करने का झूठा आरोप लगाते हुएं उनकी पोती को ले जाने लगा। गुरूवार की रात नामजदों ने उनके यहां आकर बदतमीजी करने लगे। मना करने पर छोटू मलिक ने उनकी पत्नी को जबरन गला पकड़ कर खींचकर कुछ दूर ले गया।

जहां सभी नामजदों ने मिलकर उनकी पत्नी के साथ मारपीट कर  गला दबाकर हत्या कर दी। है। इसके बाद उनकी पोती को लेकर सभी फरार हो गए। इस दौरान उनके साथ भी मारपीट की गई। हो हल्ला होने पर ग्रामीणों को आते देख सभी भाग गये। थानेदार शिवपूजन कुमार ने कहा कि  मामले की छानबीन की जा रही है। इस मामले में दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.