September 29, 2022

कुलपति मेरे रिश्तेदार हैं, 46 लाख दो नौकरी लोः मुजफ्फरपुर का यह डॉक्टर निकला दलाल, नोएडा से गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर

नौकरी के नाम पर 40 लाख की ठगी और पीड़ित को जहर देकर मार डालने के आरोप में दर्ज केस में नामजद बिहार के दांत के  डॉक्टर नलिन सिन्हा को रविवार को नोएडा से गिरफ्तार कर लिया गया। उन्हें उठाने के बाद विशेष पुलिस टीम उसे मुजफ्फरपुर ला रही है। यहां वरीय पुलिस अधिकारी पूछताछ करेंगे। नोएडा से गिरफ्तारी की पुष्टि एसएसपी जयंतकांत ने की है।

दो बेटियों करना था सेट

मिठनपुरा स्थित जगदीशपुरी लेन की मुन्नी देवी ने ब्रह्मपुरा थाने में बीते एक जून को एफआईआर दर्ज कराई थी। इसमें बताया था कि उनके पति उमेश राय का माड़ीपुर के अशोक सिन्हा के माध्यम से ब्रह्मपुरा निवासी डॉ. नलिन सिन्हा से परिचय हुआ था। उमेश ने उनसे राजेंद्र कृषि विवि पूसा में दो बेटियों की क्लर्क में नौकरी लगाने की बात की। डॉ. नलिन के रिश्तेदार विश्वविद्यालय में कुलपति थे।

कुलपति से बात कराई

डॉक्टर ने अपने कुलपति रिश्तेदार से बात कराई। उन्होंने भी नौकरी को लेकर आश्वस्त कराया। इस तरह अलग-अलग तिथियों में 20 जनवरी 2021 से 19 नवंबर 2021 के बीच 46 लाख रुपये उमेश ने अदा कर दिये, लेकिन दोनों बेटियों को नौकरी नहीं मिली। इसपर कई बार विवाद भी हुआ। अंतत: खाते के माध्यम से छह लाख रुपये उमेश को लौटाए गए। 40 लाख रुपये बकाया रह गया।

बातचीत की रिकार्डिंग से मिले सबूत

मुन्नी देवी ने आरोप लगाया कि बकाया रुपये पचाने के लिए आरोपितों ने साजिश रचकर उमेश को प्रसाद खाने के बहाने बुलाया और जहर दे दिया। 10 अप्रैल 2022 को उमेश की मौत हो गई। इसके बाद मुन्नी ने थाने में एफआईआर दर्ज कराई। उमेश और आरोपितों के बीच रुपये के बकाये को लेकर हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग और बैंक खाते का ब्योरा भी पुलिस को सौंपा। इस केस में बीते एक माह से डॉ. नलिन सिन्हा वांटेड चल रहे थे।

पुलिस मुजफ्फरपुर लाकर पहले आरोपी डॉक्टर से पूछताछ करेगी। जानकारी जुटाने के बाद उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। कोर्ट के आदेश के अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.