January 30, 2023

वोटों की खरीद-फरोख्त रोकने के लिए आयोग ने तैनात की 18 टीमें, प्रत्याशियों को रोजाना देना होगा खर्च का हिसाब

मुजफ्फरपुर

बोचहां विधानसभा उपचुनाव को निष्पक्ष कराने के लिए निर्वाचन आयोग ने 18 टीमों की तैनाती की है। तमिलनाडु के आईआरएस अधिकारी व्यय पर्यवेक्षक तमीज वेंदन की देखरेख में टीमों ने कामकाज शुरू कर दिया है। वोटों की खरीद-फरोख्त रोकने के लिए तीन उड़नदस्ता, नौ स्थैतिक जांच टीम, दो सहायक व्यय पर्यवेक्षक, दो वीडियो निगरानी, एक वीडियो अवलोकन व एक लेखा टीम सक्रिय हो गई है।

नामांकन तिथि समाप्त होने के बाद नौ स्थैतिक टीम बोचहां के प्रमुख चौक-चौराहों के अलावा भीड़भाड़ वाली जगहों पर तैनात की गई है। टीम स्थानीय लोगों से वोटों की खरीद-फरोख्त व वोटरों को शराब, रुपये, कपड़े व अन्य सामानों का प्रलोभन के संबंध में फीडबैक लेकर वरीय अधिकारियों को सूचित कर रही है। स्थानीय चौक-चौराहों से गुजरने वाले संदिग्ध लोगों पर निगरानी व उनकी जांच की जा रही है। वहीं, तीन उड़नदस्ता वोटों की खरीद-फरोख्त को रोकने के लिए लगातार विधानसभा क्षेत्र का भ्रमण कर रही है। उम्मीदवारों व उनके समर्थकों की बैठकों पर नजर रखी जा रही है।

व्यय कोषांग की टीमें सक्रिय, हेल्पलाइन नंबर जारी

व्यय कोषांग के नोडल अधिकारी सह वाणिज्यकर विभाग के संयुक्त आयुक्त गोपाल प्रसाद अग्रवाल ने बताया कि बोचहां विधानसभा चुनाव को लेकर व्यय कोषांग की टीमें सक्रिय हो गई हैं। अलग-अलग टीमें क्षेत्र में निगरानी कर रही हैं। वोट की खरीद-फरोख्त रोकने के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी की गई है। सूचना के आधार पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है।

प्रत्याशियों से प्रतिदिन देना होगा खर्चे का हिसाब

नामांकन की फाइनल सूची जारी होने के साथ उम्मीदवारों से प्रतिदिन खर्च की रिपोर्ट ली जाएगी। इसके लिए कार्यालय में केंद्र गठित किया जाएगा। उपचुनाव के लिए कुल 13 उम्मीदवारों ने नामांकन किया है। भाजपा, राजद, वीआईपी व कांग्रेस प्रत्याशी भी चुनावी मैदान में हैं। 12 अप्रैल को चुनाव व 16 अप्रैल को वोटों की काउंटिंग होगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.