October 7, 2022

गांव की लड़की से प्रेम करता था युवक, ईंट भट्टे में पानी भरे गड्ढे में मिली लाश

नवादा

नवादा में आर्मी दौड़ परीक्षा की तैयारी कर रहे एक किशोर की गला घोंट कर हत्या कर दी गयी। उसकी लाश सुबह जिले के कादिरगंज ओपी क्षेत्र के दुलालपुर गांव के हसुलिया बाध में स्थित एक ईंट भट्ठा के समीप पानी भरे गड्ढे से बरामद की गयी। अज्ञात लाश होने की सूचना पर पुलिस के साथ साथ आसपास के ग्रामीण वहां जुटे और लाश की पहचान की गयी।

मृतक 17 वर्षीय शिवम कुमार उर्फ झटन शेखपुरा जिले के सिरारी थाना क्षेत्र के भदौस गांव के स्व. सत्येन्द्र सिंह का बेटा बताया है। वह कादिरगंज ओपी क्षेत्र के आंती गांव स्थित अपने ननिहाल में मामा कृष्णनंदन सिंह के पास बचपन से ही रहता था। उसका शव मामा के घर से 1 किलोमीटर दूरी पर मिला।

नवादा पुलिस उसकी लाश लेकर सदर अस्पताल पहुंची। पंचनामा के बाद कादिरगंज एसएचओ सूरज कुमार व उसके परिजनों की मौजूदगी में उसकी लाश का पोस्टमार्टम किया गया।

दौड़ के लिए सुबह 4 बजे निकला था

मृतक के ननिहाल के परिजनों के मुताबिक शिवम कुमार आर्मी व पुलिस दौड़ की अगले साल होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा था। वह इंटर की 11 वीं कक्षा का छात्र था। वह हर रोज सुबह करीब 4 बजे घर से लंबी दौड़ के लिए गांव से बाहर निकल जाता था। बुधवार को वह दौड़ के लिए निकला था। पंरतु वापस नहीं लौटा और कुछ देर बाद उसकी लाश मिलने की सूचना मिली।

मृतक का सिर गड्ढे में भरे पानी के भीतर था, जबकि शरीर का शेष हिस्सा पानी से बाहर था। पुलिस के मुताबिक मृतक के गर्दन पर नीले रंग का गहरा निशान पाया गया है,जिससे उसके गला घोंटकर हत्या करने की आशंका जतायी जा रही है। इसके अलावा उसके सिर के समीप भी चोट का गहरा निशान पाया गया है।

गांव की लड़की से एक साल से चल रहा था प्रेम-प्रसंग

पिता की मौत के बाद शिवम बचपन से ही अपने ननिहाल में मामा के घर पर रहता था। मृतक के ममेरे भाई कृष्णनंदन सिंह के बेटे कन्हैया कुमार का आरोप है कि प्रेम-प्रसंग में उसके भाई की हत्या कर दी गयी। कन्हैया के मुताबिक उसका गांव की ही एक लड़की से पिछले एक साल से अधिक समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। लड़की के घर वाले इसे पसंद नहीं करते थे। कन्हैया की मानें तो लड़की वालों की ओर से पूर्व में भी उसे धमकी मिल चुकी थी। अभी चार दिनों पूर्व ही उसे धमकी दी गयी थी। परंतु शिवम के साथ-साथ उनलोगों ने इस बात को गंभीरता से नहीं लिया।

मां का एक मात्र सहारा थाा मृतक

घटना की सूचना पर मृतक की मां व अन्य परिजन सदर अस्पताल पहुंचे। पिता के बाद मां का एकमात्र सहारा छिन जाने से मां की आंखों से निकलते आंसू रूकने का नाम नहीं ले रहे थे। वह लगातार कुछ अंतराल पर बेहोश हो जा रही थी। वहीं अन्य परिजन भी बुरी तरह से चीख-चिल्ला रहे थे। सदर अस्पताल का माहौल बेहद गमगीन हो गया था। पास पड़ोस के लोग उन्हें समझाने में जुटे थे।

क्या कहते हैं पदाधिकारी

सडीपीओ सदर उपेन्द्र प्रसाद कादिरगंज में एक ईंट भट्ठा के समीप से एक किशोर की लाश बरामद की गयी है। परिजनों द्वारा हत्या का आरोप लगाया जा रहा है। आवेदन के मुताबिक प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। मौत के कारणों का खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद होगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.