September 25, 2022

केके के कार्डिएक अरेस्ट पर बोले डॉक्टर- दिल की बीमारी पर नहीं दिया ध्यान, CPR से बच सकते थे

मुंबई

सिंगर केके का कोलकाता में एक लाइव परफॉर्मेंस के करीब एक घंटे बाद निधन हो गया। ऑटोप्सी रिपोर्ट के मुताबिक, उन्हें कार्डिएक अरेस्ट (Cardiac Arrest) हुआ था। डॉक्टर्स का कहना है कि अगर उन्हें समय पर सीपीआर (Cardiopulmonary Resuscitation) दिया जाता तो उनकी जान बचाई जा सकती थी। वह जब तक हॉस्पिटल पहुंचे उनकी मौत हो चुकी थी। पता चला है कि कई हार्ट ब्लॉकेज होने की वजह से उनकी जान चली गई। शो के दौरान वह काफी समय से बेचैनी और हीट महसूस कर रहे थे। होटल पहुंचकर उनकी हालत ज्यादा बिगड़ गई थी।

दिल की बीमारी पर नहीं दिया ध्यान

सिंगर केके की शुरुआती पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि उन्हें लंबे वक्त से दिल से जुड़ी बीमारी थी। उनकी ऑटोप्सी करने वाले एक डॉक्टर ने आशंका जताई है कि केके को मैसिव कार्डिएक अरेस्ट हुआ था। नाम का खुलासा न करने की शर्त पर डॉक्टर ने बताया कि केके को लंबे वक्त से दिल की बीमारी थी जिस पर ध्यान नहीं दिया गया।

केके हार्ट में थे ब्लॉकेज

डॉक्टर ने PTI को बताया, उनकी लेफ्ट मेन कोरोनरी आर्टरी में ब्लॉकेज था। दूसरी आर्टरीज और सब आर्टरीज में ब्लॉकेज थे। शो के दौरान ज्यादा एक्साइटमेंट से ब्लड फ्लो रुका जिसकी वजह से उन्हें कार्डिएक अरेस्ट हुआ और जान चली गई। केके को लेफ्ट मेन कोरोनरी आर्टरी में 80 परसेंट ब्लॉकेज था और कई आर्टरीज में तमाम ब्लॉकेज थे। कोई ब्लॉकेज 100 फीसदी नहीं था।

…तो बच जाती जानी

डॉक्टर ने बताया, मंगलवार को परफॉर्मेंस के दौरानन केके दौड़ रहे थे और एक्साइटमेंट में थे। इस वजह से ब्लड फ्लो रुका। इस वजह से वह बेहोश हुए और कार्डिए अरेस्ट आया। अगर उनको समय रहते सीपीआर दिया जाता तो उनकी जान बच सकती थी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.