September 29, 2022

औचक निरीक्षण को पहुंचे डीएम को ड्यूटी से गायब मिले कर्मचारी, तीन का वेतन रोका; अधिकारी से मांगा स्पष्टीकरण

पटना

पटना में जिला निबंधन सह परामर्श केंद्र के कई कर्मी और पदाधिकारी डीएम के औचक निरीक्षण में गायब मिले। आधार बनाने का सेंटर बंद था। साथ ही सीसीटीवी का मॉनिटर और बायोमेट्रिक मशीन खराब पाई गई। डीएम डॉ. चन्द्रशेखर सिंह ने गुरुवार को छज्जूबाग, पटना स्थित जिला निबंधन एवं परामर्श केंद्र (डीआरसीसी) का औचक निरीक्षण किया।

गुरुवार की सुबह 10 बजे तीन सिंगल विंडो ऑपरेटर विभूति नारायण सिंह, घनश्याम गिरि व श्रुति कुमारी अनुपस्थित पाए गए। डीएम ने तीनों कर्मियों का एक दिन का वेतन रोकते हुए जिला योजना पदाधिकारी से स्पष्टीकरण मांगने का आदेश दिया। निरीक्षण में कर्मियों की हाजिरी दर्ज करने के लिए लगी बायोमेट्रिक मशीन खराब पायी गयी।

डीएम ने प्रबंधक डीआरसीसी से स्पष्टीकरण करते हुए तीन दिन के अंदर बायोमेट्रिक उपस्थिति शुरू करने को कहा। डीआरसीसी में 42 सीसीटीवी, कैमरे लगाए गए हैं। उसका मॉनिटर टीवी खराब मिला। प्रबंधक को मॉनिटर बदल सभी कैमरे को तीन दिन में चालू करने को कहा।

आधार निबंधन केंद्र बंद पाया गया

आधार पंजीकरण एवं परिमार्जन केंद्र बंद पाया गया, जबकि कुछ छात्र-छात्राएं आधार के लिए वहां उपस्थित मिले। प्रबंधक ने बताया कि आधार कार्य के लिए पूर्व में कार्यरत एजेंसी का कार्यकाल मार्च में समाप्त हो गया है। ग्रामीण विकास विभाग द्वारा नई एजेंसी का चयन कर लिया गया है परंतु अभी तक नई एजेंसी ने केन्द्र संचालन शुरू नहीं किया गया है। डीएम ने डीडीसी को एक सप्ताह के अंदर केंद्र शुरू कराने का निर्देश दिया। डीएम ने 30 यूपीएस की बैट्री बदलने का भी निर्देश दिया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.