September 30, 2022

दारोगा ने सिपाही का किया यौन शोषणः मंदिर में शादी कर बनाया दुल्हन, घर ले जाने के लिए अब मांग रहा 25 लाख और कार

सासाराम

अन्याय का शिकार बन जाने पर आम लोग कानून की शरण में जाकर न्याय मांगते हैं। लेकिन न्याय दिलाने वाली पुलिस जब खुद अपने साथी के यौन शोषण जैसा  घिनौना खेल खेलने लग जाए तो हम आप पुलिस पर कैसे भरोसा करेंगे। बिहार के सासाराम से एक ऐसी ही घटना सामने आई है। कानून को लागू कराने वाले दारोगा ने शादी का झांसा देकर खुद अपने साथी सिपाही का यौन शोषण किया। अब उसे अपनी पत्नी का हक दिलाने के लिए दहेज में 25 लाख नगद और कार मांग रहा  है।

ये है मामला

रोहतास जिले में पदस्थापित एक दरोगा पर अरवल जिले में पदस्थापित एक महिला सिपाही ने शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने समेत कई संगीन आरोप लगाते हुए अरवल महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है।

दर्ज प्राथमिकी में महिला सिपाही ने कहा है कि 15 नवंबर 2019 को रोहतास जिले में तैनात पुलिस पदाधिकारी अमरनाथ कुमार उर्फ राजेश कुमार उर्फ जगन ने जहानाबाद के एक मंदिर में शादी की। उसने करीब दो साल तक अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर जबरदस्ती मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाया। मैं जब ससुराल ले जाने के लिए दबाव डालने लगी। तो दरोगा अमरनाथ कुमार ने अपने घर अले जाने से इंकार कर दिया। उसका घर रवल जिले के अनुवा गांव में है। दारोगा ने  महिला सिपाही से कहा कि यदि साथ रहना है तो दहेज के रूप में 25 लाख रुपया, चार पहिया वाहन देना पड़ेगा।

एक दिन सिपाही अपने पति अमरनाथ कुमार के घरचली गई। वहां अमरनाथ कुमार के परिजन ममता कुमारी, माया कुमारी, गुड़िया कुमारी, रामजन्म मिस्त्री, राजेश कुमार समेत अन्य ने मारपीट की तथा जान से मारने की धमकी दी। पीड़िता ने कई पुलिस अधिकारियों के दरवाजे के चक्कर भी काटी, किंतु न्याय नहीं मिला।

अंततः उसने अरवल एसपी को आवेदन दिया। जिसके आलोक में अरवल महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। अरवल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.