October 4, 2022

निर्माणाधीन मकान के कमरे में मिली मां-बेटी की लाश, सनसनी

औरंगाबाद

औरंगाबाद में एक कमरे में मां बेटी का शव बरामद होने से सनसनी फैल गई। जिले  के रफीगंज प्रखंड के अब्दुलपुर एवं कर्मी गांव के बीच बधार में अर्द्धनिर्मित मकान से मां और बेटी की लाश बरामद हुई। मृतकों में गया जिले के धनिया बगीचा निवासी सत्येंद्र कुमार की पत्नी 52 वर्षीय ममता देवी और 32 वर्षीय पुत्री पूजा कुमारी शामिल है। पूजा कुमारी की ससुराल गया के खरखुरा में है। 10 साल पूर्व गया के खरखुरा में सचिन कुमार से उसकी शादी हुयी थी। जिस घर से लाश मिली, वह सिहुली खैरा गांव निवासी रीना देवी, पति लोलिन यादव का है।

रीना देवी और उनके पति लोलिन यादव ने बताया कि सुबह अपने मकान में पानी डालने आए तो देखा कि दो महिलाएं सोई हुई हैं। काफी जगाने की कोशिश की लेकिन नहीं जागी। तुरंत नजदीक के गांव अब्दुलपुर जाकर लोगों को जानकारी दी। ग्रामीणों ने दोनों को मृत देखकर इसकी जानकारी रफीगंज थाना को दी।

जानकारी मिलते ही थानाध्यक्ष राम इकबाल यादव, एसआई कविता कुमारी, निशा कुमारी, सरस्वती कुमारी   दल-बल के साथ पहुंचे। दोनों को मृत अवस्था में देखा गया। इसकी जानकारी मिलते ही काफी संख्या में लोग पहुंचे और तरह-तरह की बातें कहने लगे।

बताया गया कि घटनास्थल पर जाने का सही रास्ता नही है और यह सुनसान जगह है। दोनों के शरीर पर काला धब्बा का निशान देखने से प्रतीत होता है कि जहरीला पदार्थ खाने से मौत हुई है। शव के पास से खाने की सामग्री, दो कोल्ड ड्रिंक का बोतल, एक लेडिस पर्स जिसमें मोबाइल, पैसा, दवा था, मिला है। बरामद मोबाइल के नंबर से फोन की गई तो राजा कुमार से बातचीत हुई।

राजा ने बताया कि उसकी मां 52 वर्षीय ममता देवी, पति सत्येन्द्र कुमार एवं 32 वर्षीय बहन पूजा कुमारी शुक्रवार को घर से निकली थीं। बहन की शादी सचिन कुमार से हुई थी और उसके दो बच्चे भी हैं। पुलिस ने दोनों शव को बरामद कर कागजी प्रक्रिया के बाद पोस्टमार्टम के लिए औरंगाबाद भेज दिया। थानाध्यक्ष ने बताया कि देखने से प्रतीत होता है कि जहरीला पदार्थ खाकर मौत हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही विस्तृत जानकारी पता चलेगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.