September 29, 2022

सैलानियों के लिए 40 दिन बाद फिर चालू हुआ रोपवे, सरकार को रोजाना मिलता है इतना रेवेन्यू

बांका

बिहार का दूसरा रोपवे  जो पिछले 40 दिनों से सुरक्षा कारणों से बंद था वह सैलानियों के लिए गुरुवार से आरंभ कर दिया गया। रोपवे के चालू होते ही सैलानियों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मंदार पर्वत स्थित रोपवे के प्लेटफार्म में तीर्थयात्री एवं आम सैलानी पहुंचकर लाइन लगाकर टिकट कटाने लगे और अपनी बारी का इंतजार करने लगे। सुबह 9:30 बजे से मंदार रोपवे आरंभ हुआ।

प्रबंधक दीपक कुमार एवं सुरक्षा अधिकारी मनीष तिवारी की उपस्थिति में रोपवे को चालू किया गया जिसमें सहरसा, सुपौल, मधेपुरा सहित अन्य जिलों से तीर्थयात्रियों ने रोपवे का सफर किया। जानकारी हो कि देवघर के त्रिकूट पर्वत पर हुए हादसे के बाद मंदार के रोपवे को 12 अप्रैल से आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया था। साथ ही रोपवे की  सुरक्षा के मद्देनजर अधिकारियों की निगरानी में प्रतिदिन रोपवे का ट्रायल किया जा रहा था।

इसके अलावा रेस्क्यू ट्रायल सफलतापूर्वक किया गया। गुरुवार को रोपवे आरंभ होने से पूर्व मॉक ड्रिल किया गया जिसकी सफलता के बाद से आम सैलानियों के लिए रोपवे को चालू किया गया। हालांकि जानकारी के अभाव में आज सुबह काफी कम संख्या में सैलानी पहुंचे लेकिन ज्यों-ज्यों समय बीतता गया सैलानियों की संख्या में वृद्धि होती गई। दोपहर 1:30 बजे तक करीब 200 की संख्या में लोगों ने रोपवे का सफर पूरा कर लिया।

उल्लेखनीय है कि मंदार रोपवे पर प्रतिदिन 500 से 600 की संख्या में सैलानी सफर करते हैं। प्रतिदिन पर्यटन विभाग को यहां से करीब 40000 का राजस्व आता है। पिछले डेढ़ माह से रोपवे बंद रहने की वजह से राजस्व की भारी क्षति हो रही थी। साथ ही इसका विपरीत प्रभाव स्थानीय दुकानदारों पर पड़ रहा था। रोपवे के चालू होने से जहां सैलानी खुश हैं वहीं आम दुकानदारों के चेहरे पर भी खुशी लौट आई है। रोपवे के प्रबंधक दीपक कुमार ने बताया कि रोपवे सफलतापूर्वक चल रहा है और सभी सुरक्षा के तमाम इंतजाम हैं। अब किसी भी प्रकार की समस्या नहीं है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.