January 30, 2023

रेलवे भर्तीः ट्रेनों की आगजनी पर बोले रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव, रेलवे आपकी संपत्ति, इसे सुरक्षित रखिए

नई दिल्ली

एनटीपीसी और ग्रुप डी भर्ती परीक्षाओं पर रोक लगाने और छात्रों के हंगामे और आगजनी की घटनाओं के बाद रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने प्रेस को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि परीक्षा से संबंधित कोई शिकायत नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार और रेलवे बोर्ड इस मुद्दे पर काफी सावधानी से काम कर रहा है। आगजनी की घटनाओं पर उन्होंने कहा कि ये रेलवे की संपत्ति लोगों की ही संपत्ति है तो उसे सुरक्षित कीजिए।

बुधवार को प्रेस को संबोधित करते हुए रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव ने कहा कि एनटीपीसी और ग्रुप डी भर्ती में कुल एक लाख 40 हजार वैकेंसी हैं लेकिन आवेदन एक करोड़ से ज्यादा आए हैं। इसलिए बोर्ड अपने स्तर पर कार्य कर रहा है। उन्होंने छात्रों से धैर्य रखने की बात की। वैष्णव ने कहा कि परीक्षा को लेकर कोई शिकायत नहीं है। आगजनी को लेकर जांच के आदेश दे दिए गए हैं। रेलवे लोगों की ही संपत्ति है इसलिए इसे सुरक्षित रखना सभी का कर्तव्य है।

गौरतलब है कि बिहार में रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) की नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी (एनटीपीसी) परीक्षा परिणाम में कथित धांधली के विरोध में आज तीसरे दिन भी अभ्यर्थियों का विरोध प्रदर्शन जारी है। डीडीयू रेल मंडल के गया जंक्शन पर बुधवार को गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए अभ्यर्थियों ने जमकर बवाल काटा। इस दौरान छात्रों ने गया जंक्शन के करीमगंज यार्ड में खड़ी एमटी कोच में आग लगा दी। आग की चपेट में आने से एक कोच जलकर राख हो गया।

एनटीपीसी और ग्रुप डी भर्ती परीक्षाओं पर रोक लगाने के बाद रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) ने आक्रोशित अभ्यर्थियों की आपत्तियों पर विचार करने के पांच सदस्यीय उच्च अधिकार प्राप्त समिति का गठन कर दिया है। ये समित नाराज अभ्यर्थियों की सभी शिकायतों को सुनेगी और उनकी सभी शंकाओं का समाधान करेगी। एनटीपीसी रिजल्ट और ग्रुप डी (लेवल-1) भर्ती प्रक्रिया को लेकर अभ्यर्थियों से 16 फरवरी 2022 तक आपत्तियां और सुझाव दर्ज कराने के लिए कहा गया है। वह अपनी शिकायतें rrbcommittee@railnet.gov.in पर ईमेल कर सकते हैं। अभ्यर्थियों की बातों पर विचार करने के बाद समिति को 4 मार्च तक अपनी सिफारिश रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा गया है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.