September 25, 2022

ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को आधुनिक तकनीक के माध्यम से गुणात्मक शिक्षा उपलब्ध कराई जा सकती है — के सी सिंहा

 

पटना
बिहार मैथमेटिकल सोसायटी एवं कॉलेज ऑफ कॉमर्स आर्ट्स एंड साइंस पटना के संयुक्त तत्वाधान में बुधवार को रूरल स्टडी कैंप पर सेमिनार का आयोजन किया गया। । सेमिनार को संबोधित करते हुए नालन्दा खुला विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर केसी सिंहा नेकहा कि आधुनिक तकनीकी के आधार पर ग्रामीण क्षेत्र के बच्चों को रूरल स्टडी कैंप के माध्यम से गुणात्मक शिक्षा उपलब्ध कराई जा सकती है तथा बिहार मैं सकल नामांकन अनुपात को बढ़ाने के लिए विद्यालयों की संख्या में वृद्धि, आधारभूत संरचना,शिक्षकों की प्रशिक्षण, कंप्यूटर लिटरेसी और जागरूकता पैदा करने की आवश्यकता है। विशिष्ट अतिथि कॉलेज ऑफ कॉमर्स प्राचार्य डॉ प्रोफेसर तपन कुमार शांडिल्य ने कहा कि शिक्षक समागम तथा आईसीटी लैब और एनिमेशन वेस्ड टीचिंग के माध्यम से बच्चों के शिक्षण में इंटरेस्ट पैदा किया जा सकता है।

डॉ विजय कुमार संयोजक संयुक्त सचिव बिहार मैथमेटिकल सोसायटी ने कार्यक्रम संचालित करते हुए कहा कि सोसाइटी प्रतिभावान बच्चों को चयन के लिए टैलेंट सर्च टेस्ट इन मैथमेटिक्स ओलंपियाड एवं टैलेंट नर्चर कार्यक्रम की प्रतियोगिता परीक्षा 4 अप्रैल 2022 को आयोजित की जानी है।जिसमें आवेदन करने के लिए www.bmsbihar.org पर एवं ऑफलाइन जिला संयोजक या कॉलेज ऑफ कॉमर्स आर्ट्स एंड साइंस पटना में जमा किया जाता है। डॉ रश्मि प्रभा,अध्यक्ष गणित एवं विज्ञान राज्य शिक्षा शोध प्रशिक्षण संस्थान पटना ने कहा कि कम्युनिकेटिव एवं संख्यात्मक ज्ञान के माध्यम से बच्चों के गुणात्मक विकास किया जा सकता है। डॉक्टर संतोष कुमार, डॉ मनोज कुमार, डॉ. बी सी राय, बिहार मैथमेटिकल सोसायटी परीक्षा नियंत्रक डॉक्टर डी एन शर्मा , डॉ प्रतिभा यादव कोषाध्यक्ष डॉ प्रवीण कुमार,संयुक्त परीक्षा नियंत्रक बिहार मैथमेटिकल सोसायटी, कैमूर जिला से राष्ट्रपति पदक प्राप्त श्री हरिदास शर्मा, बेगूसराय से आशुतोष कुमार एवं समउद्दीन, सुपौल से श्री शंकर पटना से आशुतोष कुमार एवं अरुण दयाल सह संयोजक बिहार मैथमेटिकल सोसायटी, राष्ट्रपति अवार्ड से सम्मानित हरिदास शर्मा,मुजफ्फरपुर से चंदन कुमार एवं अन्य जिलों से आए हुए जिला संयोजक बिहार मैथमेटिकल सोसायटी सम्मिलित हुए।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.