October 7, 2022

कपड़े धोनी वाली मुन्नी रजक को लालू ने दिया एमएलसी का टिकट, तेजप्रताप ने भेंट की गीता

पटना

बिहार विधान परिषद की 7 सीटों पर घोषित चुनाव के लिए आरजेडी ने अपने तीन उम्मीदवारों के नाम की घोषणा कर दी। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने जिन तीन उम्मीदवरों (मोहम्मद कारी सोहैब, मुन्नी रजक और अशोक कुमार पांडेय) पर मुहर लगाई है, वह सभी पार्टी के पुराने कार्यकर्ता हैं। सबसे चकित करने वाले दो नाम हैं। इनमें मुन्नी देवी ऊर्फ मुन्नी रजक पार्टी के सभी कार्यक्रमों में नारा लगाने वाली अत्यंत ही गरीब तबके की अनुसूचित जाति की महिला हैं। वह बख्तियारपुर की रहने वाली हैं। मुन्नी रजक को टिकट मिलने पर तेजप्रताप ने भी बधाई दी और भगवतगीता उपहारस्वरूप भेंट किया।

बिहार राजद ने ट्वीट किया कि महिला सशक्तिकरण और सामाजिक न्याय का संदेश अपने एक ही कदम से केवल गरीबों के मसीहा आदरणीय लालू प्रसाद यादव जी ही दे सकते हैं! दूसरों के कपड़े धो, इस्त्री करने वाली कमजोर वर्ग की महिला श्रीमती मुन्नी रजक को विप में जा गरीबों की आवाज उठाने का सुअवसर केवल आरजेडी ही दे सकती है!

मुन्नी रजक ने तेज प्रताप यादव से मुलाकात की। उन्होंने ट्वीट किया कि धोबी समाज से आने वाली राजद की मजबूत, क्रांतिकारी कार्यकर्ता व मेरी बहन जैसी प्यारी श्रीमती मुन्नी रजक को पार्टी की ओर से बिहार विधान परिषद के लिए उम्मीदवारी घोषित कर दी गई है, बहन को अथाह बधाई। रेलवे प्लेटफॉर्म के नीचे लोगों का कपड़ा धोती हैं मुन्नी रजक। चेहरा ही जवाब है। मुन्नी रजक ने लालू प्रसाद यादव, राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव और मीसा यादव का आभार जताया और कहा कि उनके पास मोबाइल भी नहीं था। किसी से बुलवाया तो हम तो डर गए थे। लेकिन इतना बड़ा गिफ्ट दे दिया।

कौन हैं मुन्नी देवी?

मुन्नी देवी बख्तियारपुर की रहने वाली हैं, जो रजक समुदाय से आती हैं। मुन्नी देवी कपड़े धोकर अपने घर को चलाती हैं। इतना ही नहीं वह आरजेडी की सबसे अधिक सक्रिय महिला कार्यकर्ता मानी जाती हैं। वह महिला प्रकोष्ठ की महासचिव भी हैं। मुन्नी देवी पिछले दिनों लालू यादव के घर सीबीआई की छापेमारी के दौरान पूरे दिन सीबीआई के खिलाफ नारेबाजी करती रही थीं। उनको अब पार्टी ने विधान परिषद में भेजने का फैसला किया है।

टिकट मिलने के बाद मुन्नी देवी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुझे फोन कर बुलाया गया था। मुझे लगा आज वट सावित्री पूजा है, इसलिए कोई उपहार जरूर मिलेगा। उन्होंने कहा कि मैं आज भी परिवार का गुजारा कपड़े धोकर करती हूं। न मेरे पास अपना घर है न जमीन है। भाड़े के घर में रहती हूं। ऐसी गरीब महिला को टिकट देकर आरजेडी ने साबित कर दिया कि हर किसी का ख्याल लालू प्रसाद यादव रखते हैं। मुन्नी देवी ने कहा कि आज लोग लालू प्रसाद यादव को फंसाने का काम कर रहे हैं, जबकि वो गरीबों का ख्याल रखते हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.