October 4, 2022

लखीसरायः लड़का देखकर लौट रहे शख्स की पीट-पीटकर हत्या, 5 दोषियों को उम्रकैद, एक रिहा

लखीसराय

लखीसराय कोर्ट ने हत्या के एक मामले में पांच दोषियों को उम्र कैद की सजा सुनाई है। लखीसराय व्यवहार न्यायालय के एजीजे-3 की कोर्ट ने यह  फैसला दिया। शनिवार को पांच दोषियों को आजीवन कारावास की सजा दी वहीं साक्ष्य के अभाव में संदेह का लाभ देते हुए एक आरोपित को छोड़ दिया गया। वहीं दोषी पांचों अभियुक्तों को 20-20 हजार रुपए अर्थदंड भी लगाया गया है। हत्या का यह मामला वर्ष 1993 का ही बताया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक 15 मार्च 1993 को 5.30 बजे सुरेश यादव अपने बहनोई चंद्रिका यादव के साथ लड़का देखने हलसी थाना क्षेत्र के बिजुलखी से लड़का देखकर लौट रहे थे। इसी दौरान हलसी हाई स्कूल के मैदान के नजदीक जब वे दोनों पहुंचे तो वहां मौजूद कुछ फुटबॉल खिलाड़ियों ने चंद्रिका यादव के साथ बुरी तरह मारपीट की। चंद्रिका यादव को ईंट-पत्थर से मारकर बुरी तरह घायल कर दिया। इस वारदात में चंद्रिका यादव की मौत इलाज के दौरान कुछ दिनों के बाद हो गई।  मामले में राजकुमार सिंह, सुरेश सिंह, निरंजन सिंह, रवि सिंह, प्रवीण सिंह और अरविंद सिंह को आरोपित बनाया गया था।

इस मामले में एडीजे-3 श्रीराम झा सुनवाई कर रहे थे। न्यायालय में विचारण के दौरान अरविंद सिंह को छोड़ शेष पांच अभियुक्त दोषी पाए गए। वहीं अरविंद को साक्ष्य के अभाव में छोड़ दिया गया। इस मामले में पांचों दोषियों को भादवि की धारा 302/34 के तहत आजीवन कारावास की सजा मिली है। बचाव पक्ष से अधिवक्ता अशोक सिंह ने भाग लिया। वहीं अपर लोक अभियोजक मो फारूख आलम ने भी बहस में भाग लिया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.