September 30, 2022

हनीट्रैप कर किडनैपिंग, तेजाब व सिगरेट से जलाया और काट ली अंगुलीः पटना में नौकरी के नाम पर ठगी की खौफनाक वारदात

पटना

पहले युवती से दोस्ती करवायी। फिर एक रोज युवती से ही ईको पार्क बुलवाकर मुर्गा व्यवसायी का अपहरण कर लिया। इतना ही नहीं उसकी जमकर पिटाई करने के साथ ही पैर की अंगूली काट दी और पीठ पर तेजाब भी डाल दिया। बिहार की राजधानी पटना में नौकरी के नाम पर ठगी की यह कहानी काफी चर्चा में है।

नौकरी दिलाने के लिए लिए थे ढाई से पांच लाख

बीते 12 जून को उफरपुरा के विकास विहार कॉलोनी के रहने वाले जिस प्रीतम कुमार का अपहरण हुआ था उसे पुलिस ने मंगलवार की सुबह पांच बजे बरामद कर लिया है। इस मामले में राहुल कुमार नामक एक आरोपित को गिरफ्तार किया गया है। प्रीतम की बरामदगी के बाद यह बात सामने आयी कि उसने कई लड़कों से नौकरी दिलवाने के नाम पर ढाई से पांच लाख रुपये लिये थे। नौकरी नहीं होने पर लड़कों ने उससे रुपये की मांग की। लेकिन वह रुपये नहीं लौटा रहा था।

 

 

इसके बाद कंकड़बाग के रहने वाले कौशल कुमार ने प्रीतम से रुपए वापसी के साथ बदला लेने की साजिश रची। प्रीतम की दोस्ती एक युवती से करवायी। काफी दिनों तक फोन पर बात करने के बाद युवती ने उसे ईको पार्क के पास बुलाया। इधर, मौका हाथ लगते ही कौशल, राहुल समेत चार लड़कों ने चार पहिया गाड़ी से प्रीतम को उठा लिया। उसे जगनपुरा के एक कमरे में ले गये व मारपीट की। आरोप है कि प्रीतम के पैर की अंगुली तक काट दी गयी और उसकी पीठ पर तेजाब डाल दिया गया। सिगरेट से भी कई जगह दागा।

परिवहन विभाग का आईकार्ड तक दे दिया था

पुलिस फरार कौशल, अपहृत को ट्रैप करवाने वाली युवती समेत अन्य की तलाश में छापेमारी कर रही है। आरोप है कि प्रीतम ने कौशल को परिवहन विभाग का आईकार्ड तक दे दिया था। विश्वेश्वरैया भवन में वह उससे मिला करता था। उसी के आसपास प्रीतम ने कई युवकों से रुपये लिये थे। जब नौकरी की बात गलत साबित हुई तो लड़कों ने रुपये मांगे। अपहृत के भाई ने बताया कि पहली बार उसे रविवार की शाम कौशल के नंबर से ही कॉल आया था और फिरौती मांगा जाने लगा। परिजन सोमवार को रूपसपुर फिर सचिवालय थाने में अपहरण का केस किये।

पूरी रात घूमती रही पुलिस

अपहृत की तलाश में पुलिस टीम पूरी रात पटना की सड़कों पर घूमती रही। टावर लोकेशन के आधार पर पुलिस पहले जगनपुरा गयी। फिर गोपालपुर की ओर पुलिस टीम ने छापेमारी की। फिर आरोपितों का लोकेशन न्यू बाइनपास और इनकम टैक्स के पास मिला।

अपहृत को छोड़ा

पुलिस ने आरोपित पर दबाव डाला तो उसने अपहृत प्रीतम को अपने दोस्त राहुल के साथ इनकम टैक्स गोलंबर के समीप छोड़ दिया। वहीं से पुलिस ने उसे बरामद किया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.