October 4, 2022

जीतन राम मांझी ने बेटे संतोष को सौंपी पार्टी की कमान, कहा- मेरा स्वास्थ्य गिर रहा, बना रहूंगा पार्टी का संरक्षक

पटना

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने अपने बेटे और अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण मंत्री संतोष मांझी को हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) की कमान सौंप दी है। उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया है। शनिवार को पार्टी की गरीब चेतना महासम्मेलन में उन्होंने इसकी विधिवत घोषणा की। श्री मांझी ने कहा कि उनका स्वास्थ्य गिर रहा है, इसलिए अध्यक्ष पद छोड़ रहा हूं। पर, मैं पार्टी के संरक्षक के रूप में कार्य करता रहूंगा और देखूंगा कि संतोष मांझी कैसा काम कर रहे हैं।

हम द्वारा बाबा साहब भीमराव अंबेडकर जयंती के मौके पर श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में सम्मेलन बुलाया गया था, जिसमें राज्य के सभी जिलों से नेता-कार्यकर्ता बड़ी संख्या में पहुंचे थे। संतोष मांझी इसके पहले पार्टी के प्रधान महासचिव के पद पर थे। उनके अध्यक्ष बनने की घोषणा होते ही हॉल में तालियों की गड़गड़ाहट गूंजने लगी। नये अध्यक्ष को बधाई देने के लिए तांता लग गया।

निजी क्षेत्रों में आरक्षण के लिए बड़े आंदोलन की जरूरत

जीतन राम मांझी ने आरोप लगाया कि अनुसूचित जाति को आरक्षण भीख में मिली है। अनुसूचित जाति को वास्तव में वह नहीं मिला, जिसकी कल्पना अंबेडकर ने की थी। अभी अधिकांश नौकरियां निजी क्षेत्रों में मिल रही हैं। पर, वहां आरक्षण नहीं है। इसी प्रकार समान स्कूल प्रणाली लागू नहीं होने से गरीब के बच्चे शिक्षा से वंचित रह रहे हैं। इसलिए इन सभी चीजों के लिए देश में बड़े आंदोलन की जरूरत है।

इस मौके पर मंत्री संतोष मांझी ने कहा कि हम की ताकत आज पटना की धरती पर नजर आ रही है। बड़ी संख्या में उत्साह के साथ पार्टी के नेता-कार्यकर्ता यहां जुटे हैं। पूर्व मंत्री अनिल कुमार, विधायक व पार्टी प्रदेश अध्यक्ष प्रफुल्ल मांझी, विधायक ज्योति देवी समेत जेपी वर्मा, दानिश रिजवान, बीएल वैश्यंत्री, दीपक ज्योति आदि ने अपनी बात रखी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.