दम है तो बिहार में अकेले चुनाव लड़े भाजपाः जेपी नड्डा के बयान पर बोले तेजस्वी, सियासी माहौल गर्म

पटना

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने गुरुवार को भाजपा पर तीखे प्रहार कर सियासी सरगर्मी बढ़ा दी। उन्होंने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को भारत में सिर्फ एक पार्टी बचेगी के बयान को आड़े हाथों लिया और चुनौती दी कि बिहार में भाजपा अकेले चुनाव लड़कर दिखाए। इसपर बीजेपी नेता और डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा है कि मुद्दाविहीन हताशा में अनाप-शनाप बोल रहा है। बीजेपी लीडर और मंत्री जीवेश मिश्रा ने तेजस्वी पर पलटवार किया कि पहले राजद अकेले दम पर 40 सीटों पर भी लड़कर दिखाए। इस बीच जदयू ने दोनों के इस वार-पलटवार से किनारा कर लिया।

बीजेपी को लोकतंत्र में विश्वास नहीं

तेजस्वी यादव ने भाजपा को बिहार में अकेले चुनाव लड़ने की चुनौती दी है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा की औकात नहीं है कि वह बिहार में अकेले चुनाव लड़े, बिहार में उसका सारा दंभ टूट जाएगा। जनता उसे उसकी हैसियत बता देगी। नेता विपक्ष ने आगे कहा कि दरअसल, संघ और भाजपा का लोकतंत्र में विश्वास नहीं है। भाजपा के नेताओं द्वारा विपक्ष को समाप्त करने का बयान उसके इसी मंसूबे को दर्शाता है। लेकिन, लोकतंत्र की जननी बिहार भाजपा के मंसूबों को सफल होने नहीं देगी। बिहार की जनता सबक सिखाना जानती है।

तेजस्वी यादव ने भाजपा को लोकतंत्र के लिए खतरनाक बताया। कहा कि भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा का यह कहना कि देश में सिर्फ भाजपा ही एकमात्र राजनीतिक दल होगी, यह बेहद खतरनाक है। भाजपा के लोग लोकतंत्र की जननी बिहार की धरती पर लोकतंत्र को खत्म करने की बात करते हैं। बिहार की जनता यह स्वीकार नहीं करेगी। लोकतंत्र सिर्फ सत्ता पक्ष से नहीं चलता, बल्कि लोकतंत्र में विपक्ष की अहम भूमिका होती है। उन्होंने केन्द्र सरकार पर केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप लगाया। कहा कि देश का करोड़ों लेकर फरार होने वालों को तो वे ढूंढ़ नहीं पाते, लेकिन विपक्ष की आवाज को दबाने के लिए उसका दुरुपयोग किया जाता है। उनका इस्तेमाल भाजपा के एक प्रकोष्ठ के रूप में किया जा रहा है।

भाजपा को तेजस्वी क्या चुनौती देंगे उन्हें जनता जवाब देगी: तारकिशोर

उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव भाजपा को क्या चुनौती देंगे, जनता ही उन्हें जवाब दे देगी। कहा कि दरअसल, मुद्दाविहीन विपक्ष हताशा में है और अनाप-शनाप बयानबाजी से सुर्खियों में बने रहने का प्रयास करता रहा है। परिवारवाद की पोषक पार्टी के संचालनकर्ता नेता प्रतिपक्ष को चुनौती देने से पहले मालूम होना चाहिए कि जनता के आशीर्वाद और भरोसा से आज भारत के 12 राज्यों में भाजपा के मुख्यमंत्री हैं और बिहार समेत चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में पार्टी सरकार में शामिल है। बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की सरकार मजबूती से चल रही है। भाजपा को ऐसे बेतुके बयान से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। भारत की महान जनता सब कुछ समझ रही है। भाजपा ने सर्वव्यापी विकासवादी नीतियों और कार्यक्रमों की बदौलत देश की जनता के दिलों में जगह बनायी है और समाज के सभी वर्गों के कल्याण के मार्ग प्रशस्त किए हैं। पार्टी अपने सर्वस्पर्शी जन कल्याणकारी कार्यक्रमों के माध्यम से जनता के भरोसा के साथ भारत के नव निर्माण हेतु मजबूती से कदम बढ़ा रही हैं। पीएम नरेंद्र मोदी के सशक्त नेतृत्व में आंतरिक और बाह्य मोर्चों पर वैश्विक पहचान और साख बनायी है। यह सबको कैसे पच सकता है। वरिष्ठ भाजपा जीवेश कुमार ने नेता विपक्ष को चुनौती देते हुए कहा है कि हिम्मत है तो आने वाले लोस चुनाव में अकेले चुनाव लड़कर दिखाएं।

जीवेश मिश्रा ने किया पटलवार

इधर बीजेपी नेता और मंत्री जीवेश मिश्रा ने तेजस्वी यादव के बयान पर तीखा वार किया है। जीवेश मिश्रा ने कहा है कि भाजपा को नसीहत देने वाले राजद ने अपने गिरेवान में झांक कर देखें। तेजस्वी यादव नें दम है तो बिहार की सभी 40 सीट अकेले लड़कर दिखाएं। मंत्री मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस और वाम दलों के सहारे चुनाव लड़ने वाले तेजस्वी यादव को यह बयान शोभा नहीं देता।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.