September 29, 2022

घरेलू रसोई गैस की कीमत में वृद्धि वापस हो, नहीं तो आंदोलन: कांग्रेस

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सदस्य और पूर्व प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष प्रवीण कुशवाहा ने घरेलू रसोई गैस की कीमत में एक बार फिर वृद्धि को लेकर केंद्र की मोदी सरकार की तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि केंद्र में मोदी सरकार के आने के बाद  से महंगाई बेलगाम हो गई है। लगातार  उपभोक्ता वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि हो रही है। खासकर रसोई गैस ,पेट्रोल और डीजल की कीमत बेतहाशा बढ़ रही है। इससे आम लोग बेहाल हैं। गरीब और मध्य वर्ग के लोगों की तो इस महंगाई ने कमर तोड़  दी है। उनकी रसोई का बजट पूरी तरह गड़बड़ा गया है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि यह सरकार जनविरोधी है। केन्द्र में जबसे यह सरकार आई है आम लोगों की परेशानी बढ़ने लगी है। यह अपनी  जन विरोधी नीतियों से जहां पूंजीपतियों को राहत देती है, वहीं आम लोगों को परेशान कर रही है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि कर इस सरकार ने महंगाई को बेलगाम कर दिया है। मोदी सरकार महंगाई को नियंत्रित करने की बजाय गैर जरूरी मुद्दों की ओर लोगों का ध्यान भटकाती रहती है।

कुशवाहा ने मोदी सरकार से रसोई गैस की कीमत में हुई वृद्धि को वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने घरेलू रसोई गैस पर आम लोगों को पहले की तरह सब्सिडी देने की मांग की है जिससे लोगों को इस कमरतोड़ महंगाई से कुछ तो राहत मिले।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने एक बार फिर घरेलू रसोई गैस की कीमत 50 रुपया बढ़ा दी है। पिछले एक साल में रसोई गैस सिलेंडर की कीमतों में करीब 215 रुपये की बढ़ोतरी हो चुकी है। इसकी कीमत पटना में 1151  रुपये पहुंच गई है । इससे घर में खाना पकाना भी मुहाल हो जाएगा। खासकर गरीब और मध्य वर्ग के लोग के घरों में।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.