October 4, 2022

कोरोना से लड़ रहे हेल्थ वर्कर्स के लिए अच्छी खबर, 180 दिन बढ़ाई गई ‘बीमा योजना’

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PMGKP): COVID-19 से लड़ने वाले स्वास्थ्य कर्मियों के लिए ‘बीमा योजना’ को 19 अप्रैल, 2022 से 180 दिनों की और अवधि के लिए बढ़ा दिया गया है। सरकार ने इस पॉलिसी का विस्तार करने का निर्णय लिया है ताकि COVID-19 रोगियों की देखभाल में लगे स्वास्थ्य कर्मियों के आश्रितों को सुरक्षा कवच प्रदान करना जारी रखा जा सके।

क्या है प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज (PM Garib Kalyan Package) के अंतर्गत स्वास्थ्यकर्मियों को 50 लाख का बीमा कवर मिलता है। यह उन स्वास्थ्यकर्मियों के लिए है जो कोविड में अपनी ड्यूटी देते हैं। सरकार ने इस बीमा सुविधा की मियाद 180 दिनों यानी 6 महीने के लिए बढ़ा दी है।

PMGKP को 30 मार्च 2020 को शुरू किया गया था ताकि सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और निजी स्वास्थ्य कर्मियों सहित उन 22.12 लाख स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं को 50 लाख रुपये का व्यापक व्यक्तिगत दुर्घटना कवर प्रदान किया जा सके, जो COVID-19 रोगियों की देखभाल कर रहे हों और कोरोना के सीधे संपर्क में रहे हों।

अब केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज को 6 महीने के लिए आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। इस बात की घोषणा केंद्र सरकार द्वारा 19 अप्रैल 2022 को की गई है।

इस योजना को शुरूआत में 90 दिनों की अवधि के लिए 50 लाख रुपये का व्यापक व्यक्तिगत दुर्घटना कवर प्रदान करने के लिए शुरू किया गया था। हालांकि तब से इसकी मियाद बढ़ती रही है। सरकार ने इस योजना को कोविड मरीजों की देखभाल के लिए व उन लोगों के लिए तैयार किया जो कोविड-19 मरीजों के सीधे संपर्क में आए हैं और उन्हें इससे प्रभावित होने का खतरा था। यह योजना न्यू इंडिया एश्योरेंस कंपनी (एनआईएसीएल) की बीमा पॉलिसी के जरिए कार्यान्वित की जा रही है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.