September 29, 2022

सुपौल में गैंगरेप और हत्या मामले में चार को फांसी की सजा

सुपौल

सुपौल में गैंगरेप और हत्या के एक जघन्य मामले में  न्यायालय ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है। सुपौल जिला न्यायालय के एडीजे 6 सह विशेष पॉक्सो न्यायाधीश पाठक आलोक कौशिक की अदालत  ने इस कांड के 4 आरोपियों को फांसी की सजा दी है।

जिन्हें फांसी की सजा दी गई है उनमें अनमोल यादव, मोहम्मद अली शेर, मोहम्मद जमाल और मोहम्मद अयूब शामिल हैं । इस कांड के दो अभियुक्त सनमोल यादव और मोहम्मद नैयर अभी भी फरार हैं।

अदालत ने अनमोल यादव को हत्या का दोषी करार दिया है जबकि मोहम्मद अली शेर, मोहम्मद जमाल और मोहम्मद  अयूब को सामूहिक दुष्कर्म और साक्ष्य को मिटाने के साथ आईपीसी और पोक्सो एक्ट के अन्य धाराओं में दोषी करार दिया है। आईपीसी की अलग अलग धाराओं में सजा के साथ साथ जुर्माना भी लगाया गया है। धारा 376 डी में अंतिम सांस तक कारावास की सजा भी दी गई है।

एपीपी नीलम कुमारी कुमारी ने बताया कि घटना 8 अक्टूबर 2019 को हुई थी।  नाबालिग पीड़िता अपनी एक बड़ी बहन और एक चाची के साथ मेला देख कर घर लौट रही थी।  रास्ते में  प्रताप गंज थाना क्षेत्र के चिनौली नदी के पास 6 अभियुक्तों ने उन्हें घेर लिया और सामुहिक दुष्कर्म किया।  विरोध करने पर दोषी अनमोल यादव ने एक पीड़िता की गोली मारकर हत्या कर दी।

इस मामले में शुरुआत में पुलिस ने दुष्कर्म की घटना छुपाने की कोशिश की। कांड  में लूट के लिए हत्या की बात  बताई जा रही थी।  2 दिनों तक यह मामला दबा रहा।  लेकिन एक दुष्कर्म पीड़िता ने एसपी से शिकायत की तो  कांड की विधिवत अनुसंधान किया गया।

इस मामले में तीन अभियुक्तों को छतरपुर थाना क्षेत्र से 14 अक्टूबर को गिरफ्तार कर लिया गया।  इन लोगों ने अपराध में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया और अन्य अभियुक्तों के भी नाम बता दिए। गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से पुलिस ने लोडेड पिस्टल और लूटपाट के सामान भी बरामद किए थे।

इस मामले में अभियोग और बचाव पक्ष की ओर से 12 लोगों की गवाही हुई।

एपीपी नीलम कुमारी ने यह भी बताया की दोषियों ने दुष्कर्म के बाद जिस पीड़िता की  हत्या कर दी उसके साथ गोली मारने के बाद भी दुष्कर्म किया गया था।  डॉक्टर के पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक मृतका के प्राइवेट पार्ट के साथ-साथ लीवर और गंभीर जख्म पाए गए।  इलाज के दौरान नालंदा मेडिकल कॉलेज में उसकी मौत हो गई।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.