October 7, 2022

दरभंगा संस्कृत यूनिवर्सिटीः सीनेट बैठक की फाइल गायब, आदेशपाल पर FIR दर्ज

दरभंगा

कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विवि में विभिन्न मुद्दों की जांच के लिए कुलपति की ओर से गठित जांच समिति की बैठक विवि परिसर में हुई। बैठक में सीनेट की बैठक से जुड़ी संचिका के गायब होने पर भी चर्चा की गयी। इस संचिका के गायब होने को लेकर बैठक में गहमागहमी बनी रही।

कुलपति की ओर से मामलों की जांच के लिए छह सदस्यीय समिति का गठन किया गया है। इसे लेकर हुई बैठक में छह में से चार सदस्य ही उपस्थित हुए। जांच समिति के दो सदस्य विमलेंदु शेखर झा और अरुण कुमार सिंह बैठक से अनुपस्थित रहे। इस बैठक में कुलपति, प्रतिकुलपति और कुलसचिव भी शामिल नहीं हुए। कमेटी के चार सदस्यों ने बंद कमरे में बैठक कर विभिन्न अभिलेखों का अवलोकन कर उस पर गहन विचार-विमर्श किया। हालांकि इस बैठक में कोई नतीजा सामने नहीं आ सका।

सूत्रों के अनुसार सीनेट की बैठक से संबंधित संचिका के गायब होने के मामले में कुलसचिव प्रो. एसएन सिंह ने कुलपति डॉ. शशिनाथ झा को पिछले दिनों एक पत्र लिखा था। इस पत्र में उन्होंने कहा था कि यही संचिका चतुर्थवर्गीय कर्मी से मांगा गया था, जिसे देने से उसने मना कर दिया। कर्मी का कहना था कि संचिका नहीं मिल रही है तो हम कहां से लेकर दें। बैठक में कुलसचिव के इस पत्र का भी कमेटी के सदस्यों ने अवलोकन किया। इसके अलावा कुलपति व कुलसचिव के बीच आरोप-प्रत्यारोप से संबंधित पत्राचार के अभिलेख, कर्मचारी से दुर्व्यवहार विषय पर चर्चा, आरोप-प्रत्यारोप की समीक्षा, विवि की ओर से राजभवन के साथ किए गए पत्राचार से संबंधित पत्रों का अवलोकन, हड़ताल की सूचना का विषय, हड़ताली कर्मी व विवि के अधिकारियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप से संबंधित पत्रों का अवलोकन भी किया गया।

बैठक में जांच से संबंधित किसी भी व्यक्ति से किसी तरह की पूछताछ नहीं हुई। समिति की ओर से संयोजक को अधिकृत किया गया कि सभी सदस्यों की अनिवार्य उपस्थिति के साथ आगामी बैठक की तिथि मुकर्रर की जाए। बैठक में कमेटी के सदस्य प्रो. अजीत कुमार चौधरी, डॉ. आईसी वर्मा, डॉ. विनोदानंद झा, संयोजक विजय कांत मिश्रा व कर्मचारी संघ के नवल किशोर झा उपस्थित थे। अब लोगों की नजर संस्कृत विवि के विभिन्न मामलों की जांच के लिए गठित इस कमेटी की अगली बैठक पर है। बैठक के संबंध में पूछे जाने पर कुलपति ने कहा कि कमेटी की ओर से जो भी अभिलेख मांगा गया, उसे उपलब्ध करा दिया गया है। अब कमेटी अंतिम रूप से जो रिपोर्ट सैंपेगी उस आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।

चतुर्थवर्गीय कर्मी पर प्राथमिकी दर्ज

संस्कृत विवि से सीनेट की बैठक से संबंधित संचिका के कथित रूप से गायब होने के मामले में शनिवार को कुलसचिव प्रो. एसएन सिंह ने विवि थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है। इसमें विवि के चतुर्थवर्गीय कर्मी नवल झा को नामजद किया गया है। फाइल को लेकर नवल झा का ही कुलसचिव से विवाद हुआ था। विवि थाना प्रभारी सत्यप्रकाश झा ने प्राथमिकी दर्ज होने की पुष्टि की है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.