October 4, 2022

जमीन पर ईंट रखने को लेकर विवाद, भाला मारकर चाचा-भतीजे की हत्या; एक गंभीर रूप से घायल

पटना

जमीन पर ईंट रखने के विवाद में चाचा-भतीजे की भाला मारकर हत्या कर दी गयी। घटना पटना के अथमलगोला थाना क्षेत्र का जमालपुर बड़हिया गांव में बुधवार शाम साढ़े चार बजे हुई। घटना के दौरान एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसका इलाज अनुमंडलीय अस्पताल बाढ़ में चल रहा है। मृतकों में भतीजा रोशन कुमार और चाचा रत्नेश उर्फ कैलू शामिल हैं। रत्नेश को सीने में जबकि रोशन को गले में भाला लगा है।

इधर, दोहरे हत्याकांड की खबर मिलते ही अथमलगोला थानेदार राजीव रंजन सिंह मौके पर पहुंचे और छानबीन शुरू की। शवों को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया। जानकारी के अनुसार शाम के वक्त जमालपुर बड़हिया गांव में दो पक्षों रोशन के पिता सत्येन्द्र सिंह व दूसरी ओर से अर्जुन सिंह और नागेंद्र उर्फ मनु सिंह के बीच जमीन पर ईंट रखने के विवाद में कहासुनी हुई।

सत्येंद्र ने नागेंद्र को जमीन पर ईंट रखने से मना कर दिया। इस बात को लेकर विवाद बढ़ा, जिसके बाद दूसरे पक्ष के लोगों ने धारदार भाला से सत्येंद्र के बेटे रोशन और भाई रत्नेश पर वार कर दिया। भाला लगने से दोनों बुरी तरह जख्मी हो गये। आनन-फानन में दोनों को इलाज के लिए अनुमंडलीय अस्पताल बाढ़ में भर्ती कराया गया। लेकिन इलाज के दौरान चाचा-भतीजे की मौत हो गयी। वहीं शिवम कुमार जख्मी है जिसका इलाज अनुमंडलीय अस्पताल बाढ़ में चल रहा है।

पहले कहासुनी, फिर हुआ खून-खराबा

दोनों पक्षों के बीच कुछ देर तक कहासुनी हुई। एक-दूसरे पक्ष के लोग इकट्ठा हुए। इसके बाद नागेंद्र उर्फ मनु और उसके साथ आये अन्य लोगों ने भाला से हमला करना शुरू कर दिया। अथमलगोला थानेदार के मुताबिक आरोपितों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

गांव में मातम का माहौल

इधर, एक साथ चाचा-भतीजे की हत्या के बाद मृतक के परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। मृतक के परिजनों के चित्कार से टाल इलाके के जमालपुर बड़हिया गांव में मातम का माहौल है। घटना को लेकर इलाके में चर्चा का बाजार गर्म है।

बाढ़ एसएसपी अरविंद प्रताप सिंह ने कहा, ‘प्रथमदृष्टया घटना का कारण जमीन का विवाद प्रतीत होता है। पुलिस हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी करने में जुटी हुई है।’

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.