September 30, 2022

क्लैट परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी, 19 जून को एग्जाम

पटना

कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (क्लैट) 2022 का एडमिट कार्ड सोमवार को जारी कर दिया गया। कंसोर्टियम ऑफ नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज की ओर से क्लैट में शामिल होने वाले छात्र https:// consortiumofnlus. ac. in/ clat-2022/ admit- card. html लिंक पर जाकर क्लैट रजिस्ट्रेशन नंबर और डेट ऑफ बर्थ डाल कर एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

देश के 22 नेशनल लॉ विश्वविद्यालय में करीब 2700 सीटों पर नामांकन के लिए परीक्षा 19 जून होगी। इसमें सफल होने पर एनएलयू के इंटीग्रेटेड एलएलबी एवं एलएलएम जैसे पाठ्यक्रमों में प्रवेश मिलेगा। एनएलएयू के अलावा अभ्यर्थी देश के कई सरकारी और निजी लॉ कॉलेज में भी क्लैट स्कोर के आधार पर प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस परीक्षा में बिहार से यूजी और पीजी मिलाकर करीब पांच हजार छात्र शामिल हो रहे हैं। छात्र किसी भी प्रकार के समस्या के लिए clat@ consortiumofnlus. ac. in पर मेल कर सकते हैं या सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक 080-47162020 पर फोन कर सकते हैं।

परीक्षार्थियों को 120 मिनट मिलेगा
क्लैट के लिए पटना और मुजफ्फरपुर में सेंटर बनाये गये हैं। परीक्षा के लिए करीब आठ सेंटर बनाये गये हैं। क्लैट विशेषज्ञ लॉ प्रेप के को-फाउंडर अभिषेक गुंजन ने बताया कि पेपर पूरी तरह कंप्रेहेंसिव होगी। करंट अफेयर्स और लीगल का हिस्सा 25-25 प्रतिशत रहेगा। लॉजिकल रिजनिंग और इंग्लिश का 20-20 प्रतिशत और डेटा इंटरप्रिटेशन के 10 प्रतिशत सवाल होंगे। गलत उत्तर देने पर 0.25 अंक कट जायेगा।

देश के 22 नेशनल लॉ विश्वविद्यालय में करीब 2700 सीटों पर नामांकन के लिए परीक्षा 19 जून होगी। इसमें सफल होने पर एनएलयू के इंटीग्रेटेड एलएलबी एवं एलएलएम जैसे पाठ्यक्रमों में प्रवेश मिलेगा। एनएलएयू के अलावा अभ्यर्थी देश के कई सरकारी और निजी लॉ कॉलेज में भी क्लैट स्कोर के आधार पर प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस परीक्षा में बिहार से यूजी और पीजी मिलाकर करीब पांच हजार छात्र शामिल हो रहे हैं। छात्र किसी भी प्रकार के समस्या के लिए clat@ consortiumofnlus. ac. in पर मेल कर सकते हैं या सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक 080-47162020 पर फोन कर सकते हैं।

परीक्षार्थियों को 120 मिनट मिलेगा
क्लैट के लिए पटना और मुजफ्फरपुर में सेंटर बनाये गये हैं। परीक्षा के लिए करीब आठ सेंटर बनाये गये हैं। क्लैट विशेषज्ञ लॉ प्रेप के को-फाउंडर अभिषेक गुंजन ने बताया कि पेपर पूरी तरह कंप्रेहेंसिव होगी। करंट अफेयर्स और लीगल का हिस्सा 25-25 प्रतिशत रहेगा। लॉजिकल रिजनिंग और इंग्लिश का 20-20 प्रतिशत और डेटा इंटरप्रिटेशन के 10 प्रतिशत सवाल होंगे। गलत उत्तर देने पर 0.25 अंक कट जायेगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.