January 30, 2023

बिहार: रोज छापा पड़ रहा है, कौन बेवकूफ घर में पैसा रखेगा… निगरानी टीम से बोलीं सब-रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण की पत्नी

पटना

मोतिहारी के सब-रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण पर आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज करने के बाद जब निगरानी की टीम उनके घर तलाशी को पहुंची तो बड़ा ही दिलचस्प वाकया हुआ। पूर्णेंदु नगर स्थित मकान पर पहुंची टीम ने घर पर मौजूद पत्नी से पूछा कि नकदी छुपाकर रखी हैं बता दीजिए नहीं तो हमलोग ढूंढ ही लेंगे। इसपर पत्नी ने कहा कि रोज छापा पड़ रहा है, अखबार में छपती है, ऐसे में कौन बेवकूफ घर में पैसा रखेगा।

निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने शुक्रवार को सब-रजिस्ट्रार बृज बिहारी शरण के तीन ठिकानों पर छापेमारी की थी। भले ही उनकी पत्नी ने मोटी रकम होने से इनकार कर दिया पर तलाशी में 10.50 लाख रुपए बरामद हुए। पूर्णेंदुनगर वाले घर से भी कुछ रकम तलाशी में शामिल अधिकारियों को मिले। बताया जाता है कि यह 3 लाख रुपए से कुछ अधिक थी। बाकी के रकम दूसरे घरों की तलाशी में मिले।

पत्नी के नाम पर 10 प्लॉट खरीदे गए

बृज बिहारी शरण मोतिहारी में तैनात रहने से पहले औरंगाबाद और शेखपुरा में पदस्थापित रहे हैं। निगरानी को अबतक की जांच में पति-पत्नी के नाम पर 11 अचल संपत्ति मिली है। इसमें सब-रजिस्ट्रार के नाम पर एक तो उनकी पत्नी के नाम पर जमीन के 10 डीड हैं। पूर्णेंदुनगर वाली जमीन बृज बिहारी शरण के नाम पर है। वहीं पत्नी के नाम पर शेखपुरा के भदौली बाइपास रोड और अरियारी चेवर में 8 प्लॉट खरीदी गई है। इसके अलावा दो प्लॉट, पटना के पुनपुन में भी पत्नी के नाम पर है।

चार साल में खरीदी 225 डिसमिल जमीन

बृज बिहारी शरण की सेवा 12 वर्ष से कम है, सितंबर 2010 में वह नौकरी में आए। असल में संपत्ति खरीदने का खेल वर्ष 2017 से शुरू हुआ। साल 2021 तक उन्होंने सभी 11 प्लॉट खरीदे। सभी प्लॉट का कुल रकबा 225 डिसमिल से ज्यादा है। निगरानी को अभी उनकी और संपत्ति मिलने की संभावना है। लॉकर खुलने के बाद भी इसमें इजाफा हो सकता है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.