January 28, 2023

किशोर के सीने पर असलहा सटाकर पूछा-गोली खाओगे या मछली, बारात में बवाल, दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, आधा दर्जन जख्मी

बेगूसराय

बेगूसराय में छौड़ाही ओपी क्षेत्र के पनसल्ला गांव में शादी समारोह में हर्ष फायरिंग करते हुए एक किशोर के सीने पर असलहा सटाने के बाद बवाल हो गया। बारातियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया। इसमें आधा दर्जन बाराती जख्मी हो गए।

जान बचाने के लिए शादी समारोह स्थल से बहियार की तरफ भागे किसी के हाथ तो किसी पैर तोड़ दिये गये। कई के सिर पर गंभीर चोटें आई हैं। इनमें से एक की स्थिति गंभीर बनी हुई है। पहले तो निजी क्लीनिक में इलाज कराया गया। स्थिति बिगड़ने लगी तो इलाज कराने के लिए सदर अस्पताल भेजा गया।

पिटाई से घायल एक बराती ने बताया कि ग्रामीण नरेश सहनी के पुत्र की शादी थी। उसी शादी समारोह में शामिल होकर ग्रामीण नावकोठी गांव से छौड़ाही ओपी क्षेत्र के पनसल्ला गांव बारात में गए थे। खाना खाने के दौरान पनसल्ला के ग्रामीणों ने हर्ष फायरिंग करनी शुरू कर दी।

इसी दौरान हथियार से लैस एक ग्रामीण ने 13 वर्षीय किशोर के छाती पर हथियार तान कर पूछने लगा कि मछली खाओगे या गोली, ईट खाओगे या बम्बू। जब किशोर के पिता ने इसका विरोध किया तो हथियार से लैश ग्राणीण भड़क उठे। लोगों के साथ मारपीट शुरू कर दी।

ग्रामीणों ने पंडाल की लाइन काट दी। इसके बाद अंधेरे में कुर्सी, लाठी व हथियार के बट से पीटना शुरू कर दिया। इस घटना के बाद बारातियों में अफरातफरी मच गई। स्थिति अनकंट्रोल देख बाराती जैसे तैसे रात के अंधेरे में वहां से भागे।

पीछे से बारातियों को ग्रामीणों ने खदेड़- खदेड़ कर पीटना शुरू कर दिया। बारात में शामिल लोगों को अपनी जान बचाने के लिए गांव से बहियार की ओर भागना पड़ा लेकिन रात के अंधेरे में छिपे मकई के खेत से भी खींच- खींच कर पिटाई कर हाथ पैर तोड़ दिया। कुछ बाराती भागकर घर पहुंच गये।

नावकोठी थाना क्षेत्र के वार्ड संख्या- 11 नावकोठी के रहने वाले महेंद्र सहनी का पुत्र विजय सहनी, प्रसादी सहनी का पुत्र अरविंद सहनी, विजय सहनी का पुत्र कृष्ण कुमार व जगदेव सहनी का पुत्र सुरेश सहनी का नाम शामिल है जो गंभीर रूप से जख्मी हैं।

दोनों पक्षों से सुलहनामा की तैयारी
घटना के बाद किसी तरह शादी हो पाई। दुल्हन दूल्हे के साथ ससुराल पहुंच गयी। लेकिन स्थिति खराब देख बाराती व सराती के पक्ष से सुलहनामा की तैयारी चल रही है। चौंकाने वाली बात यह कि इतनी बड़ी घटना के बाद भी छौड़ाही ओपी पुलिस को या तो मालूम नहीं या फिर जानते हुए अनभिज्ञ बनी हुई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.