February 7, 2023

चित्तौड़गढ़: गांव से शहर आकर एटीएम लूट की कोशिश, पुलिस से बोले- छोटी-मोटी चोरी में मजा नहीं आ रहा था

चित्तौड़गढ़

दो चोर दोस्तों ने छोटी चोरी की बजाय एटीएम से लाखों रुपए निकालने की कोशिश की, लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को दबोच लिया। पूछताछ में इन दोनों दोस्तों ने कहा कि छोटी चोरी में मजा नहीं आ रहा था इसलिए बड़ा हाथ मारकर रुपए हासिल करने के लिए एटीएम को निशाना बनाया। यह घटना चित्तौड़गढ़ शहर से भीलवाड़ा रोड की है। ये दोनों दोस्त एटीएम को तोड़ रहे थे, जिसमें दो दिन पहले दस लाख रुपए का कैश रखा गया था। आठ लाख कैश बाकी था।

यूं धरे गए चोर
चित्तौड़गढ़ कोतवाली थाने के एसआई लोकपालसिंह ने बताया कि सोमवार रात सूचना मिली कि भीलवाड़ा रोड पर जेल के सामने आरबीएल बैंक के एटीएम में दो संदिग्ध एटीएम तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। सिपाही कन्हैयालाल मौके पर पहुंचा तो देखा कि एटीएम बूथ के अंदर दो बदमाश सरिये से एटीएम तोड़ रहे थे। सिपाही ने हिम्मत दिखाते हुए एटीएम तोड़ रहे 21 वर्षीय शंकरसिंह को पकड़ लिया। उसका साथी 20 साल का बालू भागने लगा, लेकिन जेल के संतरी एवं अन्य की मदद से उसे भी दबोच लिया गया।

बड़ा हाथ मारना चाहते थे
मौके पर पहुंचे एएसआई बरकत हुसैन ने इन दोनों का अपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी देते हुए बताया कि ये दोनों छोटी मोटी चोरियां पहले भी कर चुके हैं। पूछताछ में इन दोनों ने बताया कि छोटी चोरी करने में मजा नहीं आ रहा था। पैसा बच नहीं रहा था, पहली बार बड़ा हाथ मारने के मकसद से योजना बनाकर शहर में आए, लेकिन पुलिस की सजगता से वारदात को अंजाम नहीं दे पाए। इससे पहले भी दोनों ने अन्य जगहों पर एटीएम तोड़ने के लिए रेकी की थी।

सिपाही की आंखों देखी
कोतवाली थाना सिपाही कन्हैयालाल ने बताया कि एसपी प्रीति जैन ने गत दिनों शहर में रात्रि में गश्त को प्रभावी कर दिया है। इसमें मेरी भी ड्यूटी थी। बीट क्षेत्र में एटीएम चेक करते हुए जा रहा था, तभी आरबीएल के इस एटीएम में गार्ड नहीं था। रात 2:55 बजे वापसी में भी देखा तो एक व्यक्ति उसमें लोहे का सरिया लेकर झुक रहा था। मुझे देखकर एक युवक निकल कर भागा, दूसरा अंदर था। मैंने अंदर जाकर उसे दबोच लिया। भागने वाला युवक कुछ ही दूरी पर बाइक के पास खड़ा हो गया। युवक पांच मिनट तक मेरा हाथ छुड़ाने की जद्दोजहद करता रहा। मैंने शोर मचाया तो जेल में डयूटी कर रहा एक संतरी दौड़कर आया। एक कार चालक भी रुक गया। मैंने कंट्रोल रूम व कोतवाली थाने को सूचना दी। तुरंत ही कोतवाली से अन्य पुलिसकर्मी आ गए। बाइक सवार भागने लगा पर उसे भी पुलिस ने पकड़ लिया गया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.