October 4, 2022

पिता की गोद में सो रहे सात महीने के बच्चे को काटा, स्टेशन पर खून लगी तलवार लेकर टहलता रहा; दूसरी ट्रेन पकड़ भागा

मुजफ्फरपुर

मुजफ्फरपुर में एक सिरफिरे हमलावर ने बुधवार की रात कटही पुल पर पिता की गोद में सात माह के मासूम माहिर कुमार को तलवार से काट दिया। वारदात को अंजाम देकर नकाबपोश हमलावर रेलवे पुल की सीढ़ी से कूदकर स्टेशन की ओर फरार हो गया। उसी समय जंक्शन से एक ट्रेन खुल रही थी जिस पर वह सवार हो गया। घटना के कारणों का पता अभी नहीं चल सका है।

तलवार के वार से मासूम के सिर में पीछे आये जख्म से निकले खून में उसके पिता राजा पटेल भी लथपथ हो गए। घटना के बाद राजा पटेल और उसके परिवार वाले माहिर को सदर अस्पताल ले गए जहां स्थित गंभीर देखते हुए बच्चे को एसकेएमसीएच रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान एसकेएमसीएच में माहिर की मौत हो गई। शाम पांच बजे हुई इस घटना की सूचना राजा पटेल ने पुलिस को नहीं दी।

बच्चे का शव कटहीपुल स्थित घर लाने के बाद अंतेष्टि के लिए सिकंदरपुर श्मशान ले जाया गया जहां निगम कर्मियों ने पुलिस केस देख शव को दफन करने से रोक दिया। इसके बाद राजा और उसके परिवार वाले शव पुनः घर वापस लाये। रात साढ़े नौ बजे पुलिस को सूचना दी गई। राजा ने बताया कि वह कटहीपुल मंडी में सब्जी की दुकान चलाता है। पत्नी रेणु के साथ मोतीझील में ट्राइसाइकिल व दवा खरीदने जा रहा था। बच्चा राजा की गोद में था।

राजा ने बताया कि वह कटहीपुल की सीढी चढ़ रहा था। इसी दौरान नारंगी रंग के गमछे से मुंह बांधे लंबा पतला कद का एक युवक सामने से सीढ़ी उतरते हुए आया। उसके हाथ में तलवार थी। करीब आने के बाद उसने म्यान से तलवार निकाली और हमला कर दिया। पहला वार राजा के हाथ पर लगा। इसके बाद दूसरा वार राजा के कंधे पर सिर रखकर सो रहे सात माह के माहिर के सिर पर लगा। तबतक रेणु चिल्लाने लगी।

इस पर हमलावर युवक पुल की सीढ़ी से नीचे कूदकर स्टेशन की ओर फरार हो गया। काजी मोहम्मदपुर थानेदार सत्येंद्र सिन्हा ने बताया कि अज्ञात हमलावर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। जंक्शन के सीसीटीवी फुटेज से हमलावर की पहचान की कोशिश की जा रही है। बच्चे का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

खून लगी तलवार लेकर टहलता रहा स्टेशन पर, किसी ने पकड़ा नहीं

मासूम को तलवार से काट देने की घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। काजी मोहम्मदपुर थाने पर भी रात में काफी देर तक अफरातफरी की स्थिति रही। इधर, कटहीपुल मंडी की महिलाओं ने बताया कि ट्रेन खुलने से पहले करीब पांच मिनट तक हमलावर युवक खून सनी तलवार लेकर टहलता रहा। लेकिन किसी ने उसे नहीं पकड़ा। जीआरपी ने भी खून से सनी तलवार पर ध्यान नहीं दिया।

किसी से नहीं कोई दुश्मनी, क्यों मारा पता नहीं

मासूम के पिता राजा पटेल ने बताया कि उसकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं है। वह हमलावर युवक को पहचानता भी नहीं है। उसने क्यों हमला किया कुछ समझ में नहीं आ रहा। राजा ने बताया कि चार दिन पहले मंडी में हल्का विवाद हुआ था लेकिन इस घटना से चार दिन पहले हुए विवाद का कोई जुड़ाव नहीं।

दो दिन पहले माहिर को लगा था टीका, लग रहा था बुखार

बच्चे की मां ने बताया कि दो दिन पहले माहिर को पोलियो को टीका लगा था। इससे बुखार आ रहा था। मोतीझील में दवा दुकान से बच्चे के लिए दवा लेने जा रहे थे। इसके बाद लकवा ग्रस्त ससुर निजाम के लिए ट्राइसाइकिल भी खरीदनी थी। राजा पटेल की दो बेटी और दो बेटा हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.