छपरा में जहरीली शराब ने छिन ली 13 जिंदगियां, किसी का बेटा गया तो किसी ने खो दिया पति

छपरा

सारण जिले के भेल्दी व मकेर थाना क्षेत्र में संदिग्ध परिस्थिति में अब तक 13 लोगों की मौत हो गई और 20 से अधिक लोग बीमार पड़ गए। इनमें 15 लोगों की आंखों की रोशनी धुंधली हो गयी है। ग्रामीणों ने सभी सभी 13 लोगों की मौत शराब पीने से होने का दावा किया है तो गुरुवार को डीएम ने भी प्रारंभिक जांच में शराब पीने से मौत प्रतीत होने की बात कही।

कागजी जांच व पोस्टमार्टम रिपोर्ट के इंतजार में मरने के कारण भले ही दबा हो लेकिन ग्रामीणों के दावे व हकीकत के आइने को सामने रखें तो महज पीने के शौक ने देखते देखते तेरह परिवार उजाड़ दिये। किसी का बेटा गया तो कोई महिला बेवा हो गयी। बच्चे यतीम हो गये। मकेर फुलवरिया भाथा नोनिया टोली में संदिग्ध स्थिति में मौत से पूरा गांव सहम गया है।
भाथा नोनीया टोली गांव के लिए गुरुवार का दिन मनहूस रहा। सुबह में भेल्दी थाने के भाथा कुर्मी टोला के पच्चीस वर्षीय चंदन महतो की मौत होने के बाद गांव वाले दाह संस्कार के लिए रेवा घाट लेकर गये। गांव वाले चंदन का दाह संस्कार कर ही रहे थे कि कमल महतो की तबीयत बिगड़ने की सूचना आई। गांव वाले पचपन वर्षीय कमल को लेकर इलाज के लिए पटना पीएमसीएच जा रहे थे कि रास्ते में उनकी मौत हो गई। जैसे जैसे दिन चढ़ता गया अचानक लोगों की तबीयत खराब होने लगीं। गांव वाले की तबीयत खराब की सूचना पर मुखिया प्रतिनिधि रजब भाथा पहुंच मकेर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी डा गोपाल कृष्ण को दी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.